BBS कोर्स क्या है, BBS कोर्स से सम्बन्धित पूरी जानकारी

वैसे देखा जाये तो सभी कोर्स में scope मौजूद है, परन्तु इनमे कुछ कोर्स ऐसे भी है, जो वर्तमान और आने वाले भविष्य में विद्यार्थियों के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होगा इनमे ही एक कोर्स है, Bachelor of Business Studies यानी कि BBS इसीलिए आज हम आपको BBS से जुडी सभी जानकारी देंगे:

चलिए सबसे पहले समझते है कि बीबीएस क्या है (BBS Kya Hota Hai)?

BBS Kya Hai?

बीबीएस (बैचलर ऑफ बिजनेस स्टडीज) कोर्स एक 3 साल का अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम है जो कि पूरी तरह बिजनेस मैनेजमेंट से संबंधित है। यह पाठ्यक्रम अर्थव्यवस्था के सभी विषयों के बारे में अच्छी तरह जानकारी देता है |

बीबीएस का फुल फॉर्म ( BBS Ka Full Form ) बैचलर ऑफ बिजनेस स्टडीज ( Bachelor of Business Studies ) है। बीबीएस में प्रमुख विशेषज्ञताओं में से एक marketing, human resourse और finance से संबंधित विषय हैं।

जैसा कि यह ग्रेजुएशन कोर्स है, इसीलिए आप इसे 12th पढाई पूरी करने के बाद कर सकते है और मुख्यतः यह कोर्स 3 से 4 साल का होता है, जिसे 6 सेमेस्टर में विभाजित किया गया है |

इसे भी पढ़े: BBA कोर्स क्या है?

BBS कोर्स के लिए Eligiblity Criteria

हर ग्रेजुएशन कोर्स कि तरह इस कोर्स में भी कुछ eligliblity criteria होती है, जिसे विद्यार्थियों को पूरा करना होता है:

सबसे पहले तो आपको 10+2 कि पढाई पूरी करनी होती है और इसमें भी आपको न्यूनतम 45% मार्क्स से उत्तीर्ण होना पड़ता है, कुछ कॉलेज या संस्थान में यह ज्यादा भी हो सकता है |

इसके बाद कुछ यूनिवर्सिटीज या कॉलेज बीबीएस के कोर्स के लिए विशेष रूप से प्रवेश परीक्षा आयोजित करती है, जिसमे उत्तीर्ण होना अति आवश्यक होता है, क्योंकि उसी में मिले अंको के आधार पर ही विद्यार्थी को उनका मनपसन्द का कॉलेज मिलता है |

BBS कोर्स के लिए Entrance Exam

कुछ संस्थान बीबीएस कोर्स में एडमिशन के लिए Entrance exam लेती है जैसे कि:

DU JAT

BHU UET

NPAT

AIMA UGAT

IPMAT

FEAT

BBS कोर्स के लिए apply कैसे करें?

अब इसके बाद एक और महत्वपूर्ण सवाल यह आता है कि बीबीएस कोर्स के लिए apply कैसे करें, सबसे पहले तो आप सभी यह जानते ही है कि किसी भी कोर्स में apply करने का माध्यम online हो गया है |

इसीलिए आपको जिस संस्था में एडमिशन लेना है वहां online apply करना होगा, फिर इसके बाद हो सकता है कि उस संस्थान के द्वारा बीबीएस कोर्स के लिए Entrance exam लिया जाये यह उस कॉलेज या संस्थान पर निर्भर करता है जहाँ आप एडमिशन लेना चाहते है क्योंकि कुछ कॉलेज या संस्थान exam नहीं लेती है आपके 12th में मिले अंको के आधार पर मेरिट list बनाती है |

BBS कोर्स में एडमिशन कैसे ले?

Bachelor of Business Studies में एडमिशन लेने के भी 2 माध्यम है , पहला तो online माध्यम जहाँ आप online apply कर सकते है तो वही दूसरा माध्यम जहाँ आप स्वयं कॉलेज जाकर एडमिशन लेते है |

इसे भी पढ़े: MBA क्या है ?

Best College for BBS In India

Shaheed Sukhdev College of Business Studies
Keshav Mahavidyalaya College
Daly College Business School, Indore
Christ University, Bangalore
Deen Dayal Upadhyaya College
Indu International University
Ramanujan College
Maharaja Agrasen College
SXCMT, Patna
SJMP, Ghaziabad

BBS कोर्स कि फीस कितनी होती है?

चलिए अब बात करते है बीबीएस कोर्स के फीस के बारे में, अब देखा जाये तो अलग अलग कॉलेज में इस कोर्स कि फीस अलग अलग हो सकती है परन्तु फिर भी एक अनुमान के अनुसार इसकी फीस 50,000 से 2 लाख प्रतिवर्ष हो सकती है |

BBS कोर्स में subjects कौनसे होते हैं?

बीबीएस कोर्स तीन साल का प्रोग्राम है जिसमें 6 सेमेस्टर होते हैं। इसमें अर्थव्यवस्था, Marketing, वित्तीय, आर्थिक और मानव संसाधन से संबंधित पहलुओं जैसे विषयों को शामिल किया गया है। प्रमुख बीबीएस विषय व्यवसाय प्रबंधन, वित्तीय प्रबंधन और मानव प्रबंधन आदि हैं।

Marketing

Economics

Human resource

Budget study

Computing

Accounting

BBS कोर्स के बाद जॉब

इस कोर्स के बाद आपकी जॉब आपके skill के उपर निर्भर करती है, जिसमे:

Business Administration Professor

Production Manager

Information Systems Manager

Production Manager

Finance Manager

Human Resource Manager

और इसमें कुछ skill भी होने चाहिए जैसे कि:

Entrepreneurial Skills

Communication Skills

Analytical Skill

Critical Thinking

Management Mindset

BBS कोर्स के बाद सैलरी

इस कोर्स कि पढाई करने के बाद विद्यार्थियों का जॉब एक business या फिर Multi-National कंपनी में लगती है, जहाँ उनकी सैलरी 4 से 5 लाख प्रतिवर्ष होती है |

FAQ About BBS

BBS क्या है?

बीबीएस (बैचलर ऑफ बिजनेस स्टडीज) कोर्स एक 3 साल का अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम है जो कि पूरी तरह बिजनेस मैनेजमेंट से संबंधित है। यह पाठ्यक्रम अर्थव्यवस्था के सभी विषयों के बारे में अच्छी तरह जानकारी देता है |

BBS का फुल फॉर्म क्या है ?

BBS का फुल फॉर्म Bachelor of Business Administrations.

BBS और BBA कोर्स में क्या अंतर है ?

बीबीएस और बीबीए में एक समान कोर्स है, लेकिन प्रमुख अंतर यह है कि बीबीएस बीबीए की तुलना में विषय के व्यावहारिक दृष्टिकोण पर अधिक ध्यान केंद्रित करता है जो छात्रों को आसानी से जटिल परिस्थितियों के अनुकूल बना देगा ।

BBS का कोर्स कैसे करें?

अगर आप बीबीएस कोर्स करके अपना करियर बनाना चाहते हैं तो बीबीएस अंडरग्रेजुएट कोर्स होने के कारण आपको 12वीं में पीसीएम पास होना चाहिए। 12वीं के बाद आप उस यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले सकते हैं जहां बीबीएस कोर्स उपलब्ध है।

मुझे उम्मीद है कि आपको BBS कोर्स से सम्बन्धित सभी जानकरी समझ आ गयी होगी |

मेरा नाम Sandeep Karwasra है और में topkro.com ब्लॉग का ऑनर हूँ। अपने ब्लॉग के माध्यम से आप तक अच्छी जानकारी पहुंचाना मुझे काफी अच्छा लगता है।

Leave a Comment

close