SDO क्या होता है? SDO Kaise Bane

Spread the love

दोस्तों आज हम बात करेंगे कि SDO क्या होता है ? और SDO कैसे बनते है ? एसडीओ कि पूरी जानकारी देंगे| मेरे प्रिय मित्रों सरकारी नौकरी की चाह रखने वाले हमारे देश में बहुत है और ये अच्छी बात भी है | आप अच्छी नौकरी करके देश कि सेवा करते हैं | तो मेरे दोस्तों आज हम एक ऐसे सरकारी नौकरी के बारे में बात करेंगे जो हमे देश कि सेवा करने के लिए एक अवसर प्रदान करती है और मेरे प्रिय मित्र देश कि सेवा जरुर करना चाहेंगे|

SDO क्या होता हैं

सबसे पहले हम यह जानते है कि SDO kya hai ?

SDO एक सरकारी नौकरी है | हमारे देश में बहुत सारे राज्य है और इन राज्यों में बहुत सारे जिलें है और इन सभी को बहुत सारे विभागों में विभाजित किया गया है | इनमे कृषि विभाग, बिजली विभाग जैसे बहुत सारे विभाग आते है | इन विभागों के कार्यो को क्रियान्वयित और इनकी देख रेख के लिए इन SDO officers कि नियुक्ति कि जाती है |

एसडीओ जो अधिकारी होते है वे पूरी तरह से राज्य सरकार के अधीन में काम करते है और इनका चयन भी लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा से किया जाता है |

इसे भी पढ़ें: आईएएस कैसे बने?

SDO Ka Full Form

SDO का फुल फॉर्म Sub Division Officer होता है, एसडीओ को अलग- अलग नामों से भी जाना जाता है जैसे कि उप मंडल अधिकारी, उप प्रभागीय अधिकारी और सब डिविजनल अधिकारी आदि |

SDO Kaise Bane?

अब देखा जाये तो एसडीओ दो तरिकों से बना जा सकता है:-

हर विभाग अपने अधिकारियों कि promotion करते है जिसके जरिये आप अपने विभाग का SDO ऑफिसर बन सकते है

सरकार द्वारा विभिन्न विभागो के लिये पोस्ट निकालते है और इनका एग्जाम लोक सेवा आयोग द्वारा लिया जाता हैं आप इन सभी एग्जाम को clear करके, एक एसडीओ ऑफिसर बन सकते है |

SDO Ke Karya

  • SDO अपने विभाग का senior most ऑफिसर होता है तो एसडीओ को अपने विभागों के कार्यो को पूर्ण करना होता है |
  • अपने विभाग का Senior ऑफिसर होने कि वजह से उस विभाग के जितने भी minor ऑफिसर होते हैं, वे सभी एसडीओ के लिये responsible होते है |
  • एसडीओ ऑफिसर अपने विभाग के complaint कि भी सुनवाई करता है |
  • SDO का मुख्य काम अपने विभगो कि development करना होता है |

SDO के लिए Qualificatons

SDO मतलब कि उप प्रभागीय अधिकारी बनने के लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविधालय से स्नातक प्राप्त होना बहुत जरूरी है इसके बाद ही आप इस सरकारी नौकरी के लिए आवेदन भर सकते हैं |

SDO बनने के लिए न्यूनतम आयु

अब हम बात करते है कि SDO या उप प्रभागीय अधिकारी बनने के कितनी उम्र होना अनिवार्य है तो दोस्तों एसडीओ के लिए न्यूनतम उम्र 21 वर्ष और अधिकतम 30 वर्ष का होना अनिवार्य है |

साथ हो ST/SC और OBC वाले उम्मीदवारों को 5 वर्ष कि छूट भी दी जाती है |

इसे भी पढ़ें: BDO क्या होता है BDO Kaise Bane?

SDO का exam कैसे होता है

SDO कि चयन प्रकिया को तीन चरणों में विभाजित किया गया है चलिए इसे समझते है :-

  • प्रारंभिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • साक्षात्कार (Interview).

1. प्रारंभिक परीक्षा:-

उप प्रभागीय अधिकारी के लिए जो उम्मीदवार (candidates) आवेदन देते है उनके लिए लोक सेवा आयोग द्वारा Preliminary exam मतलब कि प्रारंभिक परीक्षा कराया जाता है जो कि पूरी तरह objective base होता हैं |

2. मुख्य परीक्षा:-

अब बात करते है मुख्य परीक्षा या main exam कि तो इसमें प्रारंभिक परीक्षा से जो छात्र उत्तीर्ण होते है वे ही SDO कि मुख्य परीक्षा में आवेदन कर सकते है और परीक्षा दिला सकते है | और ये परीक्षा थोडा कठिन होता है और इसमें competitons भी बढ जाता है |

3. साक्षात्कार (Interview):-

अगर साक्षात्कार (Interview) कि बात करे तो, जो उम्मीदवार (candidates) दोनों परीक्षा में उत्तीर्ण हुए होते है उन्हें ही साक्षात्कार (Interview) के लिए बुलाया जाता है |

इसमें आपको अन्य ऑफिसर के सामने बैठकर उनके सवालों का जवाब देना होता हैं और आपके प्रदर्शन के अनुसार आपको Marks दिया जाता है

SDO की तैयारी कैसे करें?

मेरे दोस्तों अगर आपने सोच लिया है कि आपको SDO ऑफिसर बनना है तो मैं आपको बताउंगा कि आप एसडीओ कि तैयारी कैसे करें |

इसके लिये आपको बहुत मेहनत करनी होगी और syllabus के अनुरूप तैयारी करनी होगी |

SDO का syllabus

प्रारंभिक परीक्षा का syllabus:-

1. सामान्य अध्ययन

  • सामान्य विज्ञान एवं पर्यावरण।
  • राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय की वर्तमान घटनाएं।
  • भारत का इतिहास।
  • भूगोल।
  • भारतीय राजनीति एवं अर्थव्यवस्था।
  • खेलकूद।
  • मध्यप्रदेश का भूगोल।
  • संस्कृति।
  • मध्यप्रदेश की राजनीति एवं अर्थव्यवस्था।
  • सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी।
  • अर्थव्यवस्था।
  • इतिहास एवं संस्कृति।
  • सूचना एवं प्रौद्योगिकी।
  • अनुसूचित जाति एवं जनजाति अधिनियम।
  • मानव अधिकार संरक्षण 1993 इत्यादि टॉपिक से प्रश्न पूछे जाएंगे।

2. सामान्य अभिरुचि परीक्षा

  • बोधगम्यता।
  • संचार कौशल सहित अंतर।
  • वैयक्तिक कौशल।
  • तार्किक कौशल एवं विश्लेषणात्मक क्षमता।
  • निर्णय लेना और समस्या समाधान।
  • सामान्य मानसिक योग्यता।
  • आंकड़ों का निर्वचन।
  • हिन्दी भाषा में बोधगम्यता कौशल दसवीं कक्षा के स्तर की।

इसे भी पढ़ें: Fundamental Rights In India In Hindi

मुख्य परीक्षा syllabus:-

सामान्य अध्ययन -1

सामान्य अध्ययन -2

सामान्य अध्ययन -3

सामान्य अध्ययन -4

हिन्दी

हिन्दी निबंध |

1. सामान्य अध्ययन I

  • इतिहास
  • भूगोल
  • सुरक्षा मुद्दे।
  • जल प्रबंधन।
  • आपदा प्रबंधन।
  • भारतीय इतिहास व विश्व इतिहास।मध्यकालीन भारतीय इतिहास।
  • आधुनिक भारतीय इतिहास।
  • भूगोल का हिस्सा भारतीय भूगोल।
  • मृदा और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग पर केंद्रित होगा।
  • आपदा प्रबंधन एक महत्वपूर्ण विषय भी है। मानव निर्मित आपदा।
  • सामुदायिक योजना और मामले के अध्ययन।
  • मध्य प्रदेश की संस्कृति विशेष संदर्भ के साथ भारतीय संस्कृति और विरासत जैसे विषय से भी प्रश्न आएंगे, पूर्ण सिलेबस के लिए

2. सामान्य अध्ययन II

  • संविधान।
  • सुरक्षा मुद्दे।
  • सामाजिक कानून।
  • संविधान के भाग और मौलिक अधिकार, राज्य के नीति निदेशक तत्व।
  • केंद्र और राज्य की विधानसभाएं।
  • न्यायपालिका।
  • पंचायती राज।
  • HRD, इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन के विषयों का ज्ञान।
  • सोशल सेक्टर,
  • सोशल सेक्टर सेगमेंट के तहत, हेल्थ सर्विसेज, टेक्नोलॉजिकल इंटरवेंशन इत्यादि।

3. सामान्य अध्ययन III

  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी।
  • रीजनिंग और डेटा इंटरप्रिटेशन।
  • बेसिक न्यूमेरिसिटी एंड स्टैटिस्टिक्स।
  • लाभ व हानि।
  • मेंसुरेशन।
  • ऊर्जा।
  • पर्यावरण।
  • सतत विकास और भारतीय अर्थव्यवस्था।
  • सामान्यीकृत विज्ञान और प्रौद्योगिकी के मुद्ददे।
  • टेक्नोलॉजी, इत्यादि।

4. सामान्य अध्ययन IV

  • मानवीय आवश्यकताएं और प्रेरणा।
  • दार्शनिक
  • नैतिकता।
  • अखंडता।
  • दृष्टिकोण, इत्यादि।

हिंदी विषय

हिंदी साहित्य, हिंदी साहित्य का इतिहास और व्याकरण |

इसे भी पढ़ें: Ias Interview Question In Hindi

SDO Ki Sallary

एसडीओ एक विभागीय अधिकारी नौकरी है जिसका वेतन भी अच्छा होता है इसमें आपको शुरूआती समय में 25000 से 40000 रूपये मिल सकते है और समय के साथ जब आपका प्रमोशन होगा तो आपकी वेतन भी बढ़ेगी | कुछ सुविधाओ के साथ आपकी सैलरी 50,000 रूपये तक हो सकती है|

उम्मीद करता हूँ दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट काफी पसंद आयी होगी तथा आपको sdo के बारे में पूरी जानकारी मिल पाई होगी| अपना कीमती समय देने के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यवाद|


Spread the love

Leave a Comment