M com क्या है, M.com से सबंधित पूरी जानकारी |

Spread the love

दोस्तों करियर एक ऐसा शब्द है, जिसे सुनकर सभी विद्यार्थी Serious हो जाते है और हो कि भी क्यों न यह उनके भविष्य कि बात जो होती है, हम भी अपने blog में करियर से रिलेटेड बहुत सारे आर्टिकल्स लिखते है, जिसे आप जरुर पढ़ सकते है |

आज के इस आर्टिकल में हम जानेगे कि M com क्या है, M.com कैसे करें और M com कोर्स से सबंधित सभी जानकारी आपको देंगे |

चलिए सबसे पहले समझते है कि M.com क्या है ?

M com क्या है?

M. Com जिसका फुल फॉर्म Master of commerce है, यह एक पोस्ट ग्रेजुएशन का कोर्स है, यह कोर्स हमारे देश के साथ साथ पूरी दुनिया कि एक लोकप्रिय कोर्स है, जिसे अधिकतर स्टूडेंट्स करना पसंद करते है, इस कोर्स में आप कॉमर्स से रिलेटेड विषयों का अध्ययन करते है,

जैसे कि Finance, Account, Economics जैसे महत्वपूर्ण विषय शामिल रहते है परन्तु बदलते समय के वजह से इस कोर्स में कुछ रिसर्च और analytics के विषय को शामिल किया जा रहा है ताकि विद्यार्थियों को रोजगार के साथ साथ एक अच्छी knowledge भी मिल सके |

अगर आप किसी प्राइवेट सेक्टर में एक अच्छा जॉब पाना चाहते है, तो आपको यह कोर्स बिलकुल करना चाहिए, क्योंकि MBA कोर्स के बाद इस कोर्स कि डिमांड बढ़ जाती है, और अगर आप भी अपना future secure करना चाहते है तो आपको यह कोर्स जरुर करना चाहिए |

चलिए अब आपको इस कोर्स के बारे में और details से बताते है:

M Com course के लिए Eligiblity Criteria क्या है?

हमारे देश में हर क्षेत्र में competition बढ़ता जा रहा है, इसीलिए कुछ क्षेत्र competition कम करने के लिए eligliblity criteria लाते है ताकि competition कम हो सके, एम. कॉम के कोर्स में भी कुछ eligiblity criteria है, जिसे आपको पूरा करना होगा:

सबसे पहले तो आपको किसी भी मान्यता संस्थान से 10+2 कि पढाई पूरी करनी होगी |

इसके बाद आपको ग्रेजुएशन का कोर्स complete करना होगा, अगर आप ग्रेजुएशन B.com से करते है, तो यह आपके बहुत ही फायदेमंद होगा, ग्रेजुएशन के कोर्स में आपको कम से कम 50% अंक लेन अनिवार्य है कुछ कॉलेज में यह अंक ज्यादा हो जाते है |

कुछ कॉलेज या संस्थान एम. कॉम के कोर्स के लिए entrance exam भी लेते है और इस entrance exam के माध्यम से आपका selection होता है |

M.com में Admission कैसे लें?

एम. कॉम कि eligiblity criteria जानने के बाद आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा कि एम. कॉम कोर्स का एडमिशन प्रोसेस क्या होता होगा, तो चिंता मत कीजिये हम आपको M com कोर्स के एडमिशन प्रोसेस के बारे में पूरी जानकारी देंगे:

सबसे पहले तो आपको एम. कॉम से सबंधित सभी eligiblity criteria पूरा करना होगा |

इसके बाद आपको जिस कॉलेज में एडमिशन पाना चाहते है, तो वहाँ online या फिर ऑफलाइन दोनों में से किसी भी एक माध्यम में apply करना होगा, इसके बाद आपको कॉलेज में जाकर एडमिशन लेना होगा |

जैसा कि मैंने आपको बताया कि कुछ कॉलेज या संस्थान entrance exam भी लेती है, जिसमे आपको अच्छे अंक लाने होते है और entrance exam में मिले अंक के आधार पर आप एम. कॉम का कोर्स कर सकते है |

इसे भी पढ़ें:- MBA क्या है तथा MBA के क्या फायदे हैं?

Best College for M.com In India

एम. कॉम एक पोस्ट ग्रेजुएशन का कोर्स है अतः हमारे देश में कुछ बेहतरीन कॉलेज है, जैसे कि:

Sri Ram College of Commerce [SRCC], New Delhi
Madras Christian College, Chennai
Hans Raj College, Delhi University
St. Joseph’s College of Commerce, Bangalore
Symbiosis College of Arts & Commerce, Pune
St. Xavier’s College, Kolkata
Christ University, Bangalore
Loyola College, Chennai
Lady Sriram College for Women, New Delhi

इसे भी पढ़ें:- State Bank से एडुकेशन लोन कैसे लें? – Study Loan By SBI

M com में Subjects

मुझे लगता है कि अब आप एम. कॉम के subjects जानना चाहते है, इस कोर्स में आप कॉमर्स से रिलेटेड विषयों का अध्ययन करते है, जैसे कि Finance, Account, Economics जैसे महत्वपूर्ण विषय शामिल रहते है |

Accounting for Managerial DecisionsHuman Resource Management
Financial MarketsFinancial Bank Management
Entrepreneurial ManagementCommercial Bank Management
Banking & FinanceStrategic Management
Statistical AnalysisMarketing Management
Managerial EconomicsManagement Concepts and Organisation Behaviour
Financial ManagementEconomics of Global Trade
E-CommerceCorporate Tax Planning
Computer Applications in BusinessBusiness Environment
Corporate Legal EnvironmentComputer Financial Accounting

M. com की fees कितनी है?

वैसे तो अलग अलग कोर्स करने कि फीस भी अलग होती है जैसे कि अगर आप MBA करते है, तो आपको एम. कॉम से ज्यादा फीस देनी पडती है, एम. कॉम करने के लिए आपको 15,000 से 1,00,000 रूपये फीस हो सकती है यह कॉलेज पर भी निर्भर करता है |

इसे भी पढ़ें:- BCA क्या है? BCA करने के क्या फायदे है?

M com के बाद क्या करें?

किसी भी फ़ील्ड में पढाई पूरी करने के बाद आप मन में यह सवाल आता है, कि इसके आगे क्या करें वैसे ही एम. कॉम का कोर्स करने के बाद यह जरुर आएगा कि इसके बाद क्या करें:

एम. कॉम का कोर्स करने के बाद आपकी opportunity बढ़ जाती है आप सरकारी विभाग में भी जा सकते है और आप प्राइवेट सेक्टर में भी एक अच्छा जॉब कर सकते है:

TCS (Tata Consultancy Services Limited        )

Infosys

WNS Global Services     

Tata Motors    

Wipro Technologies Ltd

ऐसे और भी बहुत सारी कंपनी है, एम. कॉम के बाद skill के अनुसार जॉब देती है |

M com के बाद Job

जैसा कि मैंने आपको बताया कि एम. कॉम के बाद बहुत सारी जॉब opportunities आपको मिलेगी, तो चलिए बात करते है कि आप किस प्रकार के जॉब करेंगे मतलब आपका Job role क्या होगा:

Investments AnalystMoney Manager
Cashier/TellerMarketing Manager
Business AnalystMarket Analyst
AccountantInvestment Banker
Assistant AccountantAccounts Assistant

M.com के बाद Salary

आपने यह तो समझ लिया कि एम. कॉम के बाद आपका Job Role क्या होग, परन्तु एम. कॉम के बाद सैलरी क्या होगी:

एम. कॉम एक पोस्ट ग्रेजुएशन का कोर्स होने के वजह से आपकी सैलरी अन्य जॉब के अपेक्षा ज्यादा ही होगी, और यह आपके skill और knowledge और इसके साथ उस कंपनी पर भी निर्भर करता है जहाँ आप जॉब करना चाहते है:

एक अनुमान के अनुसार आपकी शुरुआत में सैलरी 50,000 से 1,00,000 रूपये प्रतिमाह हो सकती है |

FAQ About M. Com

M.com क्या है?

M com जिसका फुल फॉर्म Master of commerce है, यह एक पोस्ट ग्रेजुएशन का कोर्स है, यह कोर्स हमारे देश के साथ साथ पूरी दुनिया कि एक लोकप्रिय कोर्स है, जिसे अधिकतर स्टूडेंट्स करना पसंद करते है |

M com का फुल फॉर्म क्या है ?

M com का फुल फॉर्म Master of Commerce है |

M. com कितने वर्षो का होता है ?

M com 2 वर्षो का होता है, जिसमे 4 सेमेस्टर होते है |

M. com और MBA में क्या अंतर है ?

वैसे एम. कॉम और MBA में कुछ ज्यादा अंतर नहीं है, दोनों ही कोर्स में business और कॉमर्स से रिलेटेड subjects कि जानकारी दी जाती है, MBA को एक professional डिग्री के रूप में माना जाता है जो छात्रों को बहुत सारे क्षेत्रों के बारे में जानने में सक्षम बनाता है, एम. कॉम की तुलना में MBA बहुत महंगा है।

M com के बाद Professor कि नौकरी कैसे पाए ?

एम. कॉम करने के बाद अगर आप प्रोफेसर के रूप में जॉब पाना चाहते है तो आपको NET exam कि तयारी करनी होगी, इस exam को clear करने के बाद प्रोफेसर बन सकते है |

आशा करता हूँ दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट काफी पसंद आई होगी तथा M.com के कोर्स से जुड़े सभी सवालों के जवाब आपको मिले होंगे, हम आपके उज्ज्वल भविष्य कि कामना करते है |


Spread the love

Leave a Comment