क्रिकेट पर निबंध – Cricket Essay In Hindi

आज के पोस्ट में हम बात करेंगे Cricket essay in hindi के बारे में। हम सभी ने बचपन में क्रिकेट को खेला है इसके अलावा कई लोग क्रिकेट में अपना करियर भी बनाते हैं ऐसे में आज की पोस्ट आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाली है क्योंकि मैं इसमें आपको बताऊंगा कि आप क्रिकेट के ऊपर एक अच्छा निबंध कैसे लिख सकते हैं। अगर आप इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हम आपसे अनुरोध करेंगे कि आर्टिकल को आखिर तक पढ़ें।

इस निबंध के माध्यम से हमने बताया है कि क्रिकेट का क्या महत्व है, क्रिकेट की शुरुआत कब और कहां हुई, क्रिकेट के क्या लाभ है तथा Cricket के नियम क्या होते हैं? इत्यादि के बारे में जानकारी देने का प्रयास किया है। इस पोस्ट को हमने आसान भाषा मे लिखने का प्रयास किया है ताकि आपको सभी बातें आसानी से समझ आ सकें।

इस पोस्ट में आपको क्रिकेट पर कई निबन्ध दिए गए है जैसे क्रिकेट पर निबंध 100 शब्दों में, क्रिकेट पर निबंध 300 शब्दों में, Cricket par nibandh 500 शब्दों में तथा क्रिकेट पर 10 लाइन इत्यादि।

क्रिकेट पर निबंध 100 शब्दों में – Cricket Essay In Hindi

क्रिकेट आज की तारीख में दुनिया का एक मशहूर गेम है करोड़ों की संख्या में क्रिकेट लोगों के द्वारा देखा जाता है ऐसे में क्रिकेट आज की तारीख में लोगों के द्वारा विशेष तौर पर भारत में क्रिकेट का क्रेज ही कुछ अलग है यहां पर लोगों के द्वारा सबसे अधिक क्रिकेट भी देखा जाता है I Cricket के खेल में 11 सदस्य होते हैं I क्रिकेट का गेम दो टीमों के बीच होता है और क्रिकेट 50 बार और 20 ओवर इसके अलावा टेस्ट मैच भी होते हैं I

क्रिकेट के जितने भी नियम कानून और क्रिकेट के बड़े बड़े टूर्नामेंट होते हैं उसका आयोजन आईसीसी के द्वारा किया जाता है जिससे Cricket का सबसे बड़ा बोर्ड माना जाता है इसके द्वारा ही वर्ल्ड कप टी20 और जितने भी अंतरराष्ट्रीय मैच होते हैं उसका संचालन किया जाता है I

क्रिकेट का जन्म इंग्लैंड में हुआ था और इंग्लैंड के माध्यम से ही इसका प्रचार-प्रसार दूसरे देशों में हुआ आज की तारीख में कुल मिलाकर आठ टीमें प्रमुख रूप से क्रिकेट खेला करती हैं I हालांकि समय-समय पर जब एशिया कप और टी20 इसके अलावा आईसीसी वर्ल्ड कप का मैच होता है तो उसमें कुछ नए टीमों को खेलने का मौका दे दिया जाता है I

क्रिकेट पर निबंध 300 शब्दों में – Cricket Par Nibandh

क्रिकेट का इतिहास


क्रिकेट का सबसे पहले खेल 1478 में फ्रांस में शुरू हुआ था। उस समय गेंद को एक पतली लोहो या किसी धातू की रॉड से मारा जाता था। लेकिन क्रिकेट का जन्मदाता इंग्लैंड को माना जाता है और इंग्लैंड के द्वारा ही इस खेल का प्रचार और उसका विस्तार बाकी देशों में हुआ इंग्लैंड उस समय दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश था और उसने कई देशों को अपना गुलाम भी बनाया था।

जिसमें भारत दक्षिण अफ्रीका और भी कई देश के इन सभी देशों में क्रिकेट को विस्तारित करने का पूरा काम इंग्लैंड के द्वारा किया गया थाI 1744 में केंट और लंदन के बीच खेला गया था पहले के समय क्रिकेट में 10 10 टीमें हुआ करती थी I भारत की पहली क्रिकेट संस्था का नाम “कलकता क्रिकेट क्लब” था। सन 1797 में इस खेल को मुंबई में खेला जाने लगा था

क्रिकेट खेलने की प्रक्रिया

Cricket में दो टीमें एक दूसरे के साथ मैच खेलती हैं और जिनके टीम में 11 खिलाड़ी होते हैं इसके अलावा कुछ एक्स्ट्रा खिलाड़ी भी होते हैं क्योंकि अगर खेल के दौरान कोई खिलाड़ी चोटिल हो जाए तो उसकी जगह उस खिलाड़ी को टीम में सम्मिलित कर लिया जाता है क्रिकेट मैच का आरंभ टॉस के माध्यम से होता है।

जिसमें टॉस जीतने वाली टीम इस बात का फैसला करती है वह फील्डिंग करेगी या बैटिंग। बैटिंग करने वाले टीम के 2 प्लेयर मैदान पर आएंगे और एक खिलाड़ी विकेट की तरफ और दूसरा विकेट के दूसरे छोर पर खड़ा होगा इसके बाद फील्डिंग करने वाली टीम मैदान के चारों तरफ खड़ी हो जाएगी और फिर टीम की तरफ से एक खिलाड़ी बॉलिंग करना शुरू होगा 6 गेंद डालने के बाद एक ऊपर पूरा हो जाएगा।

उसके बाद दूसरा गेंदबाज बॉलिंग करने का आएगा इस प्रक्रिया से 50 ओवर तक गेंदबाजी की जाएगी इसके अलावा बैटिंग करने वाली टीम के द्वारा जितना अधिक रन बनाए जाएगा उस रन को बॉलिंग करने वाली टीम के द्वारा बनाना होगा तभी जाकर मैच का फैसला होगा कि कौन सी टीम जीत गई और कौन सी हार गई

इसके अलावा मैच के दौरान दो अंपायर ग्राउंड पर होते हैं एक ग्राउंड पर अंपायर होता है और थर्ड अंपायर उनके बाहर होता है इसे हम लोग टीवी अंपायर कहते हैं ग्राउंड का अंपायर ग्राउंड में होने वाले सभी प्रकार के चीजों का संचालन करता है जैसे खिलाड़ी आउट है या नो बॉल व्हाइट बॉल इसके अलावा ग्राउंड पर दूसरे प्रकार के निर्णय मुख्य अंपायर के द्वारा नहीं जाते है।

अगर कोई ऐसा फैसला जो मुख्य अंपायर को समझ में नहीं आ रहा है तो उस फैसले को थर्ड अंपायर को रेफर करेगा जिसमें थर्ड अंपायर वीडियो के माध्यम से फैसले का निरीक्षण करेगा कि प्लेयर आउट है या नहीं अगर आउट होगा तो मैदान में लगे हुए इस स्क्रीन पर रेड बत्ती जल जाएगी और अगर आउट नहीं है तो ग्रीन बत्ती

क्रिकेट पर निबंध – Long Essay On Cricket In Hindi

प्रस्तावना

क्रिकेट एक आउटडोर गेम है जो अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय दोनों स्तरों पर खेला जाता है I क्रिकेट का गेम छोटे बड़े सभी के द्वारा खेला जाता है और हम सभी लोगों ने बचपन काल में Cricket खूब खेला है आज की तारीख में क्रिकेट एक उभरता हुआ करियर ऑप्शन भी है क्योंकि क्षेत्र में पैसे और शोहरत दोनों बहुत ज्यादा है।

जिसके कारण कई युवाओं का झुकाव Cricket की तरफ में हुआ है भारत में क्रिकेट को भगवान माना जाता है और यहां के लोग क्रिकेट को सबसे ज्यादा प्यार और पसंद भी करते हैं जिसके कारण भारत में क्रिकेट का अपने आप में एक खास महत्व है I

क्रिकेट के प्रकार

क्रिकेट तीन प्रकार के होते हैं एक दूसरे टी-20 और टेस्ट मैच आज की तारीख में सबसे अधिक एकदिवसीय और टी20 मैच खेला जाता है क्योंकि दर्शक इस प्रकार के खेलों को सबसे अधिक पसंद करते हैं।

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि भारत में प्रतिवर्ष आईपीएल आयोजित किया जाता है जो T20 के तर्ज पर होता है जिसे अधिक से अधिक लोग देखना पसंद करते हैं इसके अलावा भारत में कुछ डोमेस्टिक टूर्नामेंट भी आयोजित किए जाते हैं जैसे भारत में रणजी ट्रॉफी, रानी झांसी ट्रॉफी, बजी ट्रॉफी, ईरानी ट्रॉफी, दिलीप ट्रॉफी, शीश महल ट्रॉफी और अब्दुल्ला गोल्ड कप इत्यादि।

क्रिकेट खेल के मुख्य नियम

  • प्रत्येक टीम में 11 खिलाड़ी होते हैं।
  • क्रिकेट का खेल खुले और सूखे मैदानों में खेला जाता है उस मैदान की चौड़ाई और लंबाई इसका व्यास 137m और 150m के बीच होता है।
  • क्रिकेट पिच की लंबाई 20.12 मीटर और चौड़ाई 10 फीट / 3.05 मीटर है ।
  • क्रिकेट के गेंद का वजन पांच ओंस होता है।
  • क्रिकेट पिच में स्टम्प से बालिंग क्रीज की लम्बाई 4 फीट होती हैं, जो मीटर में 1.22 मीटर होती है।
  • क्रिकेट का पिच तीन प्रकार का होता है डस्टी पिच, ग्रीन पिच, डेड पिच।
  • बल्ले की चौड़ाई 4.28 इंच, जबकि लंबाई 38 इंच होनी चाहिए।
  • बल्ले का वजन 1.1 से 1.4 किलोग्राम, हालांकि इसके लिए कोई निर्धारित मानक नहीं है।
  • एकदिवसीय मैचों में वाइट गेंद का इस्तेमाल किया जाता है जबकि टेस्ट मैचों में लाल गेंद का।
  • वनडे मैचों में खिलाड़ियों के द्वारा रंगीन कपड़े पहने जाते हैं जबकि टेस्ट मैच में वाइट कपड़े।
  • क्रिकेट में कुल मिलाकर 3 अंपायर होते हैं दो अंपायर ग्राउंड पर और तीसरा थर्ड अंपायर के रूप में।
  • एक ओवर में छह गेंदे फेंकी जाती हैं I
  • अगर किसी मैच में दोनों टीमों के द्वारा बनाया स्कोर एक समान होगा तो ऐसे में उस मैच का फैसला 1 ओवर के मैच के द्वारा किया जाएगा।

Cricket से हुई महत्वपूर्ण शब्दावली

कैच – यदि कोई बल्लेबाज बल्ले से गेंद को मारता है और वह गेंद हवा में होती है फील्डिंग करने वाली टीम उस गेंद को पकड़ लेती है उसे कैच पकड़ना कहा जाता है I

रन आउट – जब कोई खिलाड़ी बल्ले से गेंद को मारकर रन लेता है और वह अगर दूसरे छोर पर सही वक्त ना पहुंचे और फील्डिंग करने वाली टीम के द्वारा गेंद को अगर स्टांप पर मार दिया जाए तो उसे ही रन आउट कहा जाता है।

टाइम आउट – किसी बल्लेबाज के आउट हो जाने पर अगर दूसरा बल्लेबाज 2 मिनट के अंदर मैदान में नहीं आता है तो टाइम आउट दे दिया जाता है।

बोल्ड – यदि बल्लेबाज बल्लेबाजी करता हो और बोल जाकर उसके विकेट में लग जाए या स्टंपर रखे हुए बेल अगर गिर जाते हैं तो उसे बोल्ड कहा जाता है I

हिट विकेट – अगर बल्लेबाज द्वारा बल्लेबाजी करते समय बल्ले से या फिर उसके शरीर के किसी भी हिस्से से स्टंप या फिर बेल गिर जाती है तो हिट विकेट माना जाएगा।

स्टंपड – जब बल्लेबाज के द्वारा कोई गेंद बल्ले से नहीं लगती है और वह क्रीज के बाहर अगर चला जाता है तो ऐसे ऐसी टीमें विकेटकीपर द्वारा गेंद को स्टंप पर मार दिया जाता है तो उसे स्टांप कहते हैं और बल्लेबाज आउट हो जाता है।


गेंद पकड़ना – एक बल्लेबाज अपने विकेट को सुरक्षित करने के लिए गेंद हाथ से नहीं पकड़ सकता है। अगर ऐसा करता है तो उसे आउट करार दिया जाएगा।

मेडन ओवर – जिस ओवर में बल्लेबाजी एक भी रन नहीं बनते हैं तो उसे हम लोग मेडनो बताते हैं।

नो बाल – अगर किसी गेंदबाज के द्वारा गेंदबाजी करते समय दूसरे छोर जहां पर दूसरा बल्लेबाज खड़ा होता है वहां पर बॉलिंग करने का एक सीधी सफेद जानकी लाइन होती है अगर उसके बाहर उसका पैर अगर आ जाता है तो ऐसी स्थिति में उस गेंद को नो बॉल के अंपायर तरफ से कहा जाएगा I

DSR – इसके अंतर्गत अगर कोई भी खिलाड़ी आउट हो जाता है तो और खिलाड़ी को लगता है कि वह आउट नहीं है तो वह इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर अंपायर के फैसले को चुनौती दे सकता है और उसके बाद थर्ड अंपायर ग्राउंड पर उपस्थित अंपायर के फैसले की समीक्षा करेगा और अगर उसे लगता है कि ग्राउंड पर उपस्थित अंपायर के द्वारा गलत निर्णय लिया गया है तो उसके निर्णय को बदल सकता है और जो भी सही निर्णय होगा वह देगा इसका इस्तेमाल गेंदबाज और बल्लेबाज दोनों के द्वारा किया जा सकता है I

एलबीडब्ल्यू – एलबीडब्ल्यू का मतलब होता है लेग बिफोर विकेट यानी अगर कोई खिलाड़ी बल्लेबाजी कर रहा है और गेंद आकर उसके पैरों पर लग जाए तो उसे हम लोग एलबीडब्ल्यू कहते हैं I

भारत में क्रिकेट का महत्व


भारत में क्रिकेट का महत्व बहुत ज्यादा है भारत के अधिकांश लोग क्रिकेट देखना बहुत ज्यादा पसंद करते हैं इसका अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है कि जब भारत में आईपीएल की शुरुआत होती है तो लोगों का स्टेडियम में आपको दिखाई पड़ेगा और लोग जोर-शोर से क्रिकेट स्टेडियम में आपको खिलाड़ियों का मनोबल प्रसारित करते हुए दिखाई पड़ेंगे।

इसके अलावा भारत में Cricket का कोई भी बड़ा टूर्नामेंट आयोजित किया जाता है तो ऐसे सिटी में स्टेडियम लोगों से खचाखच भर जाता है और वहां पर बैठने की जगह भी नहीं रहती है I भारत में क्रिकेट का महत्व ईश्वर के समान हैI भारत में अब तक दो बार वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया है और एक बार T20 पर कुल मिलाकर 3 विश्वकप भारत ने अपने नाम पर दर्ज किए हैं I

भारत के कुछ प्रसिद्ध क्रिकेटर


विराट कोहली, रोहित शर्मा, के राहुल, अजिंक्य रहाणे, शिखर धवन, सूर्य कुमार, रविंद्र जडेजा, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार इसके अलावा भी भारत में ऐसे महान क्रिकेटर पैदा हुए हैं जिन्होंने अपने नाम से विश्व क्रिकेट के इतिहास में अपना नाम सुनहरे अक्षरों में अंकित किया है जिसमें प्रमुख तौर पर चंदू कार, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, वीरेंद्र सहवाग जैसे क्रिकेटरों के नाम सम्मिलित हैं I

क्रिकेट पर 10 लाइन – 10 Lines On Cricket In Hindi

  1. क्रिकेट सबसे पसंदीदा अंतरराष्ट्रीय खेल है।
  2. विकेट को जेंटलमैन खेल भी कहा जाता है।
  3. क्रिकेट एक प्रकार का आउटडोर गेम है।
  4. क्रिकेट में भारत का बीसीसीआई सबसे अमीर बोर्ड है।
  5. क्रिकेट 3 चरणों में खेला जाता है पहला बैटिंग दूसरा गेंदबाजी और तीसरा फील्डिंग।
  6. खेल के मैदान पर तीन बार होते हैं 2 ग्राउंड पर और 3 ग्राउंड के बाहर।
  7. क्रिकेट के पिच 22 गज की होती है।
  8. क्रिकेट के नियम और कानूनों का संचालन आईसीसी बोर्ड के द्वारा किया जाता है।
  9. 4 साल के अंतराल पर विश्वकप आयोजित करवाए जाते हैं।
  10. क्रिकेट में सबसे अधिक वर्ल्ड कप जीतने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया का नाम पर दर्ज है I

इन्हे भी पढ़ें:-

उम्मीद करता हूं दोस्तों की “क्रिकेट पर निबंध ( Cricket essay in hindi )” से सम्बंधित हमारी यह पोस्ट आपको काफी पसंद आई होगी। इस पोस्ट में हमनें क्रिकेट से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां देने का प्रयास किया है। आशा है आपको पूर्ण जानकारी मिल पाई होगी।

अगर आप यह पोस्ट आपको अच्छा लगा तो आप अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर कर सकते हैं। अगर आपके मन मे कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं हम आपसे जल्द ही संपर्क करेंगे। अपना कीमती समय देने के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यवाद।

FAQ About Cricket In Hindi

Q: क्रिकेट में भारतीय क्रिकेट की स्थिति कैसी है?

Ans: क्रिकेट में भारतीय क्रिकेट की स्थिति काफी मजबूत है और भारत क्रिकेट के इतिहास में एक मजबूत और सशक्त टीम के रूप में जाना जाता है इसका सबसे बड़ा परिणाम है कि भारत एशिया का पहला ऐसा देश है जिसने 2 बार वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया है और एक बार T20 वर्ल्ड कप पर |

Q: क्रिकेट को दूसरे किस उपनाम से जाना जाता है?

Ans: क्रिकेट को जेंटलमैन खेल के तौर पर भी जाना जाता है क्योंकि इस खेल का आचरण और इसका प्रारूप बिल्कुल सभ्य और सुशील होता है।

Q: क्रिकेट का जन्मदाता किसे कहा जाता है?

Ans: क्रिकेट का जन्मदाता इंग्लैंड को कहा जाता है।

Q: सबसे अधिक वर्ल्ड कप जीतने का रिकॉर्ड किस टीम के नाम पर दर्ज है?

Ans ऑस्ट्रेलिया

Q: 2019 का क्रिकेट वर्ल्ड कप किसने जीता था?

Ans: इंग्लैंड क्रिकेट टीम

मेरा नाम Sandeep Karwasra है और में topkro.com ब्लॉग का ऑनर हूँ। अपने ब्लॉग के माध्यम से आप तक अच्छी जानकारी पहुंचाना मुझे काफी अच्छा लगता है।

Leave a Comment

close