विज्ञान के चमत्कार पर निबंध – Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi

नमस्कार दोस्तों Top Kro में आपका स्वागत है। इस पोस्ट में हम “विज्ञान के चमत्कार के बारे में ( vigyan ke chamatkar essay in hindi ) पढेंगे। vigyan ke chamatkar essay in hindi की सहायता से विद्यार्थी विज्ञान के चमत्कारों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर पाएंगे है।

विज्ञान के चमत्कार निबंध के माध्यम से हमने बताया है कि विज्ञान क्या है, विज्ञान के चमत्कार कौन से है, विज्ञान के लाभ क्या है, विज्ञान के क्या नुकसान है ? इत्यादि के बारे में जानकारी देने का प्रयास किया है। इस पोस्ट को हमने आसान भाषा मे लिखने का प्रयास किया है ताकि आपको सभी बातें आसानी से समझ आ सकें।

इस पोस्ट में आपको विज्ञान के चमत्कार पर कई निबन्ध दिए गए है जैसे विज्ञान के चमत्कार एस्से इन हिंदी 100 शब्दों में, विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 300 शब्दों में, विज्ञान के चमत्कार पर लम्बा निबंध तथा विज्ञान के चमत्कार पर 10 लाइन इत्यादि।

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 100 शब्दों में – Essay on Vigyan ke chamatkar in Hindi

किसी भी वस्तु के बारे में जानकारी प्राप्त करना और उस जानकारी को सही तरीके से लागू करना अथवा किसी भी वस्तु का सही तरीके से अवलोकन या विश्लेषण करना ही विज्ञान कहलाता है। आज विज्ञान के चमत्कार के कारण ही मानव जाति इतनी विकसित हो पायी है।

आज ऐसा कोई क्षेत्र नहीं और विश्व का ऐसा कोई कोना नहीं जहाँ विज्ञान न हो। सर्वप्रथम मानव ने अपनी कमजोरियों को समझा उसके पश्चात अपनी सीमाओं को तथा फिर मानव ने अपने दृढ़ निश्चय से अपनी कमजोरियों को दूर करने तथा अपनी सीमाओं को पार करने का अथक प्रयास किया। विज्ञान के कारण मानव को बहुत सी सुविधाएं मिली है।

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 300 शब्दों में

प्रकृति के क्रमबद्ध अध्ययन को विज्ञान कहते हैं। विज्ञान के विभिन्न प्रकार है जैसे- प्राकृतिक विज्ञान, जीव विज्ञान, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान इत्यादि। विज्ञान हमें किसी घटना के पीछे के कारणों तथा परिणामों से अवगत कराते हैं।

आज विज्ञान के कारण ही बहुत से आविष्कार हुए हैं जिनके कारण हमें बहुत सी सुविधाएं मिली है। जैसे बिजली मानव जाति को विज्ञान का एक शानदार उपहार है। बिजली के माध्यम से घर ही रोशन नहीं हैं बल्कि आज हम जितने भी उपकरण अपने दैनिक जीवन में उपयोग करते हैं उनमें से ज्यादातर बिजली की सहायता से चलते हैं। इसके अतिरिक्त अस्पताल, औधोगिक क्षेत्र तथा कॉर्पोरेट सेक्टर इत्यादि में बिजली का महत्वपूर्ण योगदान है।

आज बड़ी – बड़ी यात्राएँ हम कुछ घंटों ओर मिनटों में तय कर सकते हैं यह विज्ञान की देन है। साइकिल, मोटर साइकिल, रिक्सा, कार, बस, रेलगाड़ी तथा हवाई जहाज का आविष्कार विज्ञान के कारण ही सम्भव हुआ है।

विज्ञान के कारण खेती में उपज की गुणवत्ता तथा पैदावार में बढ़ोतरी हुई है। फसल काटने की मशीन, ट्रैक्टर, उन्नत बीज, कीटनाशक तथा खाद्य आदि किसानों को विज्ञान का उपहार है।

वैसे तो प्राकृतिक आपदाओं पर कोई विजय प्राप्त नहीं कर सकता परन्तु विज्ञान के कुछ ऐसे आविष्कार हैं जिनकी मदद से इन आपदाओं के बारे में पहले से ही संकेत प्राप्त किया जा सकता है जिससे जान माल की हानि कम की जा सकती है।

आज विज्ञान के कारण बहुत सी मशीनों का आविष्कार सम्भव हो पाया है। प्रत्येक छोटे-छोटे कार्य के लिए मशीनें उपलब्ध है। एक मशीन सेकड़ों इंसानों के बराबर कार्य कर सकती है जिससे समय की भी बचत होती है तथा गुणवत्ता भी बेहतर होती है।

आज विज्ञान हमारे जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। मानव को विज्ञान के उपहार के रूप में अनेक सुविधाएं प्राप्त हैं जिनका उपयोग वह अपने दैनिक जीवन के कार्यों को पूरा करने से लेकर प्रकृति के प्रकोप से स्वयं को बचाने तक करता है। मनुष्य जीवन को अधिक सरल, सहज एवं प्रभावशाली बनाने में विज्ञान का बहुत बड़ा योगदान है।

Long essay on vigyan ke chamatkar in hindi

आज का युग, विज्ञान का युग है। हम विज्ञान व टेक्नोलॉजी के युग में रहते है। विज्ञान ने मनुष्य को ऐसे बहुत सारे आविष्कार प्रदान किये हैं जिनके कारण मनुष्य की ज़िन्दगी बहुत आसान हो गई है। विज्ञान के कारण ही ऐसे ऐसे चमत्कार हुए है जिनके बारे में पहले कल्पना भी नहीं की जा सकती थी।

विज्ञान क्या है – Vigyan kya hai?

विज्ञान दो शब्दों वि + ज्ञान से मिलकर बना है। ‘वि’ शब्‍द का मतलब ‘विस्तार से’ होता है तथा ज्ञान शब्द का मतलब जानकारी प्राप्त करना होता है। अंत सरल शब्दों में विज्ञान का अर्थ विस्तार से जानकारी प्राप्त करना होता है। किसी वस्तु के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करना ही विज्ञान कहलाता है।

विज्ञान को हम अपने आसपास हर रोज हर वक्त देखते है। विज्ञान ने दुनिया के हर क्षेत्र में काम किया है। सुबह उठते ही समाचार पत्र के द्वारा हमें देश – विदेश की ख़बरें पढ़ने को मिलती है ये विज्ञान की ही देन है। विज्ञान ने हमें टीवी, फ्रिज, पंखा, एसी, माइक्रोवेव, गैस जैसे अनेक उपकरण दिये जिनके बिना तो जैसे अब कोई इन्सान जीवित ही नहीं रह सकता। विज्ञान के कारण ही हमने कई बड़ी – बड़ी बीमारियों पर जीत हासिल की है।

विज्ञान ने देश में फैले अन्धविश्वास को ख़त्म किया है। आज मनुष्य सुनी हुई बातों पर विश्वास नहीं करता, बल्कि आँखों देखी बातों को मानता है। विज्ञान के द्वारा हम किसी भी चीज का उपरी अध्ययन नहीं करते। बल्कि उसकी जड़ तक पहुँचने का प्रयास करते है।

विभिन्न क्षेत्रों में विज्ञान के बढ़ते कदम

विज्ञान से दुनिया की कोई चीज अछूती नहीं है। आज विज्ञान ने चिकित्सा, मनोरंजन, यातायात, अंतरीक्ष इत्यादि क्षेत्रों में बहुत से चमत्कार किये हैं।

चिकित्सा के क्षेत्र में

विज्ञान ने मानव को बहुत आरामदायक जीवन प्रदान किया है। विज्ञान ने स्वास्थ्य व जीवन को एक नयी दिशा प्रदान की है। हार्ट ट्रांसप्लांट, किडनी ट्रांसप्लांट, एक्सरे, वेंटीलेटर तथा बॉडी चेकउप जैसे विज्ञान के आविष्कारों ने चिकित्सा के क्षेत्र को नई दिशा प्रदान की है। आज विज्ञान के कारण बहुत सी ऐसी दवाओं का आविष्कार सम्भव हुआ है जो बीमारी को बहुत जल्दी ठीक कर सकती हैं।

यातायात के क्षेत्र में

विज्ञान ने यातायात के क्षेत्र में भी बहुत प्रगति की है। आज ऑटोमोबाइल के क्षेत्र में भी विज्ञान ने काफी तरक्की की है। विज्ञान ने दूरियों को बहुत कम कर दिया है। विज्ञान के कारण एक से बढकर एक कार, बस, रेलगाड़ी तथा हवाई जहाज इत्यादि चल रही है।

मनुष्य की हर जरूरत के हिसाब से बेहतरीन गाड़ियाँ बनाई जा रही है। आज हजारों किलोमीटर की दूरी को हम कुछ घंटों या मिनटों में तय कर सकते है। हवाई जहाज के द्वारा हम लोग सुबह का नाश्ता भारत में, दिन का खाना दुबई में तो रात का खाना किसी दुसरे देश में कर सकते है।

इलेक्ट्रिसिटी के क्षेत्र में

बिजली को आधुनिक विज्ञान का पहला आविष्कार माना जाता है। इसने हमारी दुनिया में रोशनी ही रोशनी बिखेर दी। विज्ञान अंधकार से हमारा हाथ छुड़ा कर उजाले की ओर ले गया। टीवी, प्लेयर, रेडियो, पंखा, कूलर, रेफ्रिजरेटर, ऐसी इत्यादि बिजली से चलती है। आजकल तो ढेर सारे किचन एप्लायंस भी आ गए है जो बिजली से चलते है जिनसे महिलाएं अपना घरेलू कार्य बड़ी आसानी से व कम समय में ख़त्म कर लेती है।

संचार के क्षेत्र में

आज फोन, मोबाइल, लैपटॉप, कंप्यूटर, इन्टरनेट तो किसी बेहतरीन तोहफे से कम नहीं है। विज्ञान के कारण पहले फ़ोन का आविष्कार हुआ। तार से जुड़े ये फोन एक घर को दुसरे से जोड़ते थे। अब मोबाइल का ज़माना आ गया है जिससे एक इन्सान दूसरे से जुड़ गया है। 

आज इन्टरनेट के द्वारा हम कहीं भी बैठकर किसी से भी उसे देखकर बात कर सकते है। किसी भी देश की खबर सुन सकते हैं। इंटरनेट ने आज बहुत बड़ी क्रांति ला दी है। यह सब विज्ञान के कारण भी सम्भव हो पाया है।

मनोरंजन के क्षेत्र में

आज टीवी, विडियो गेम, प्ले स्टेशन इत्यादि मौजूद है। जिनसे अपना मनोरंजन कर सकते हैं। टीवी तो जैसे हमारे परिवार का हिस्सा बन गया है। टीवी हमारे मनोरंजन का सबसे बड़ा साधन है। इससे हम देश – विदेश की ख़बरें, फ़िल्में, गाने तथा नाटक इत्यादि देख सकते है। आज हम ऑनलाइन गेम खेलकर भी अपना मनोरंजन कर सकते हैं।

शिक्षा के क्षेत्र में

विज्ञान ने शिक्षा को भी नयी दिशा प्रदान की है। विज्ञान के कुछ आविष्कारों के कारण शिक्षा के क्षेत्र में बहुत बड़ा बदलाव आया है। आज प्रिंटिंग मीडिया अब इतनी आसान हो गई है की अब एक बार में हज़ार पन्ने भी छापे जा सकते हैं जिसके कारण पुस्तक या किताब हमें आसानी से कम कीमत में मिल जाती है। आज हम घर बैठे मोबाइल या लैपटॉप की मदद से ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं।

व्यापार व कृषि के क्षेत्र में

कृषि और व्यापार के क्षेत्र में भी विज्ञान के कारण काफी आविष्कार हुए है जिनके कारण काफी उन्नति हुई है। विज्ञान के कारण आज हमारे पास बड़ी – बड़ी मशीने है जिनकी मदद से बड़े – बड़े उद्योग, इस्पात तथा कृषि यंत्रों का निर्माण हो पाया।

हमारे उपयोग की चीज के हजारों कारखाने है जिससे हमें ये वस्तुएं आसानी से उपलब्ध हो जाती है। आज आधुनिक बीज, खाद तथा कीटनाशक की मदद से उपज की गुणवत्ता और उपज की मात्रा में काफी बढ़ोतरी हुई है। विज्ञान ने कृषि और व्यापार के क्षेत्र में एक नई क्रांति ला दी है।

अंतरिक्ष के क्षेत्र में

विज्ञान के सहयोग से आज मनुष्य अंतरीक्ष तक पहुँच गया है। अन्तरिक्षयान के द्वारा मानव चंद्रमा पर अपना घर बसाने का सपना भी देखने लगा है। कुछ उपकरणों की मदद से हम मौसम का हाल भी जान लेते है। यहाँ तक की आने वाली प्राकतिक आपदा के बारे में भी ये पहले ही संकेत दे देते है।

विज्ञान के लाभ – Vigyan ke labh

विज्ञान ने मनुष्य को जीने का नया तरीका दे दिया है। विज्ञान के अनगिनत लाभ मनुष्य को मिले है। हम हर समय विज्ञान को अपने आसपास महसूस कर सकते है। विज्ञान के अनेकों लाभ मनुष्य को मिले है।

  • आज हम काफी लंबा सफर भी कुछ ही समय मे तय कर सकते हैं।
  • विज्ञान की मदद से आज काफी लंबा कार्य भी बहुत जल्दी किया जा सकता है।
  • विज्ञान की मदद से आज स्वास्थ्य सेवाएं भी बहुत बेहतर हो गयी है।
  • विज्ञान के कारण आज अत्याधुनिक खाद, बीज तथा कीटनाशक उपलब्ध है। जिनकी मदद से उपज की मात्रा में काफी बढ़ोतरी हुई है।
  • विज्ञान के कारण आज हम अंतरिक्ष तक पहुंच गए है। विज्ञान के कारण शिक्षा को नई दिशा मिली है।
  • विज्ञान के कारण आज हम देश – विदेश की जानकारी अपने फ़ोन पर ही प्राप्त कर सकते हैं।
  • विज्ञान के कारण हम ऑनलाइन शिक्षा घर बैठे प्राप्त कर सकते है।
  • विज्ञान की मदद से हम आज बड़ी – बड़ी अत्याधुनिक मशीनों का आविष्कार करने में सफल हुए।
  • इनके अलावा भी ऐसे बहुत सारे आविष्कार है जो विज्ञान की देन है जिनके कारण हमें बहुत सारी सुख सुविधाएं प्राप्त हुई है।
  • वास्तव में विज्ञान ने हर क्षेत्र को नई दिशा प्रदान की है। विज्ञान के कारण आज मनुष्य को बहुत सारी सुविधाएं प्राप्त हुई है।

विज्ञान एक अभिशाप या विज्ञान की हानियाँ

जहाँ लाभ होते है वहां कुछ हानियाँ भी होती है। जहां विज्ञान से हमें इतने लाभ प्राप्त हुए है वहीं कुछ हानियां भी हुई है। विज्ञान के आविष्कारों के कारण इन्सान आलसी हो गया है। अब हम बिना हाथ पैर हिलाए मशीन से काम करना पसंद करते है। विज्ञान के कारण रोबोट तक का निर्माण कर लिया गया है जो इन्सान की तरह दिखने वाली मशीन होती है जो इंसान द्वारा दी गयी कमांड कार्य करती है। इन्सान विज्ञान पर इतना ज्यादा निर्भर हो गया है कि वो इसके बिना चलना ही पसंद नहीं करता है।

विज्ञान के कारण हमनें परमाणु बम, बड़ी – बड़ी तोपें, रायफल, ज़हरीली गैस तथा हथियार बनाये है जो मानव हित के लिए नहीं, बल्कि अहित के लिए कार्य करते है। परमाणु बम के कारण ही जापान का हिरोशिमा और नागासाकी बर्बाद हुआ था। जिसका मुआवजा आज तक भुगतान पड़ रहा है। आज भी वहां पर इसका असर देखा जा सकता है। भोपाल गैस त्रासदी भी विज्ञान में हुई गलती का नतीजा है जिसके चलते जहरीली गैस ने लाखों लोगों को मौत के घाट उतार दिया था।

आजकल हाई स्पीड गाड़ियाँ बन चुकी है जिन्हें हम काफी तेजी से चलाते है और भयानक एक्सीडेंट होते है।

हवाई जहाज के द्वारा हम देश – विदेश तो घूम लेते है लेकिन जरा सी तकनीकी खराबी के चलते ये कई बार सैकड़ों लोगों की जिंदगी छीन लेता है।

इन्टरनेट ने हमें बाहरी दुनिया से तो जोड़ा है लेकिन घर में ही लोगों के बीच दूरियां उत्पन्न हो गई है। अब हम अपने परिवार से दूर होने लगे है।

विज्ञान ने हमारे चारों ओर के पर्यावरण को प्रदूषित कर दिया है। बड़े – बड़े कारखानों तथा उधोगों से निकला धुंआ वायु में मिल जाता है जिससे प्रदुषण की समस्या और ग्लोबल वार्मिंग जैसी समस्या उत्पन्न होती है।

विज्ञान की जरूरत

आज विज्ञान अनेक आविष्कारों की वजह से हमारा जीवन बहुत आसान हो गया है। हम चाहकर भी विज्ञान से दूर नही जा सकते। अगर हम कोशिश भी करें तो विज्ञान हमारा पीछा नहीं छोड़ेगा। जितना हो सके विज्ञान को सही तरीके से उपयोग करें और किसी को हानि पहुँचाने वाले आविष्कार ना ही करें तो अच्छा है वरना एक दिन ये विज्ञान हमारे विनाश का कारण भी बन सकता है।

उपसंहार

विज्ञान का आविष्कारक इन्सान है और इसका दुरपयोग करने वाला भी इंसान ही है। इन्सान के हाथों में है कि वो विज्ञान के आविष्कारों का उपयोग कैसे करता है। हमें विज्ञान पर निर्भर नहीं होना चाहिए बल्कि विज्ञान को इन्सान पर निर्भर होना चाहिए। आज विज्ञान का प्रयोग इतना बढ़ गया है जैसे दुनिया आग पर बैठी है पता नहीं कब राख का ढेर बन जाये।

Vigyan ke chamatkar par 10 panktiyan

  1. प्रकृति में मौजूद वस्तुओं के क्रमबद्ध अध्ययन ज्ञान को विज्ञान कहते हैं।
  2. आज पूरी दुनिया में विज्ञान ने अपना वर्चस्व बना लिया है।
  3. वैज्ञानिकों ने कई बड़े आविष्कार किए हैं जिनके कारण मानव जीवन बहुत ही आसान हो गया है।
  4. विज्ञान हमारे दैनिक जीवन में महान भूमिका निभाता है।
  5. विज्ञान के चमत्कार के कारण ही आज मानव अंतरिक्ष तक पहुंच गया है।
  6. सैकड़ों किलोमीटर की दूरी आज हम कुछ ही घंटों में तय कर सकते हैं यह विज्ञान की ही देन है।
  7. कृषि, यातायात, अंतरिक्ष तथा व्यापार हर क्षेत्र विज्ञान की सहायता से बुलंदियां छू रहा है।
  8. कृषि एवं पशुपालन के क्षेत्र में विज्ञान ने बहुत प्रगति की है। उन्नत बीजों से खाद्यान्न का उत्पादन कई गुणा बढ़ गया है।
  9. स्वास्थ्य क्षेत्र में भी विज्ञान के कारण अद्भुत आविष्कार हुए है।
  10. हमें भी विज्ञान के आविष्कारों का सम्भल कर इस्तेमाल करना चाहिए वरना ये हमारे विनाश का कारण भी बन सकता है।

उम्मीद करता हूं दोस्तों की “विज्ञान के चमत्कार पर निबंध ( vigyan ke chamatkar essay in hindi )” से सम्बंधित हमारी यह पोस्ट आपको काफी पसंद आई होगी। इस पोस्ट में हमनें विज्ञान से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां देने का प्रयास किया है। आशा है आपको पूर्ण जानकारी मिल पाई होगी।

अगर आप यह पोस्ट आपको अच्छा लगा तो आप अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर कर सकते हैं। अगर आपके मन मे कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं हम आपसे जल्द ही संपर्क करेंगे। अपना कीमती समय देने के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यवाद।

Q.1. विज्ञान के चमत्कार पर निबंध कैसे लिखें?

Ans: विज्ञान के चमत्कार पर निबंध लिखने के लिए हमें विज्ञान व इसके आविष्कारों के बारे में जानकारी होनी चाहिए। विज्ञान के चमत्कार पर निबंध लिखने के लिए आप ऊपर दिए गए निबन्धों को पढ़ सकते हैं। इन निबन्धों की मदद से आप खुद भी विज्ञान के चमत्कार पर निबंध लिख सकते हैं।

Q.2. वंडर ऑफ साइंस क्या है?

Ans: आज हर क्षेत्र में विज्ञान ने काफी तरक्की की है। जीवन तथा विज्ञान एक-दूसरे के पर्याय बन गए हैं। विज्ञान के कारण मनुष्य का जीवन अत्यंत आरामदायक बन गया है। आज मनुष्य भी विज्ञान की सहायता से पक्षियों की भांति आसमान में उड़ सकता है।

Q.3. विज्ञान का जनक कौन है?

Ans: स्टीफन हाकिन्स व कुछ अन्य वैज्ञानिको के अनुसार गैलीलियो आधुनिक विज्ञान के जनक माने जाते है ।

Q.4. चिकित्सा के क्षेत्र में विज्ञान का क्या योगदान है?

Ans: आज आरोग्य एवं चिकित्सा के क्षेत्र में विज्ञान ने महत्त्वपूर्ण योगदान दिया है। कुछ वर्षों पूर्व हैजा, प्लेग, चेचक, मलेरिया, क्षय आदि बीमारियाँ असाध्य समझी जाती थीं। लेकिन आज इनका इलाज संभव है। चिकित्सा के क्षेत्र में विज्ञान ने काफी तरक्की की है।

Leave a Comment