10th और 11th me science lene ke fayde | साइंस लेकर क्या-क्या बन सकते हैं?

Science lene ke fayde, 10th और 11th me science lene ke fayde, साइंस लेकर क्या-क्या बन सकते हैं: 10वीं पास करते ही सभी बच्चों के मन में यह सवाल आने लगता है कि उन्हें आगे कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए। जिसमें आगे चलकर रोजगार के कई अवसर मौजूद हों। क्योंकि उस सब्जेक्ट को पढ़ने से कोई लाभ नहीं होगा, जिसे खत्म करने के बाद आपको रोजगार नहीं मिल सकता। ऐसे में अगर आप भी इसी असमंजस में हैं कि कौन सा सब्जेक्ट लेना सही रहेगा तो हमारी इस पोस्ट को अंत तक देखें।

इस पोस्ट में हम आपको 10वीं के बाद साइंस लेने के फायदों (science lene ke fayde) के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, साथ ही 10वीं में साइंस को लेकर आप क्या बन सकते हैं। क्योंकि भविष्य में आपको कुछ भी बनना हैं तो उसके लिए शिक्षा की शुरुआत किशोरावस्था से ही कर देनी चाहिए। आइए जानते है कि 10th और 11th me science lene ke fayde क्या – क्या है ? और उससे जुड़ी सभी जानकारी के बारे में…

Contents show

साइंस स्‍ट्रीम क्‍या होती है?

इससे पहले कि हम आपको साइंस लेने के लाभों के बारे में बताएं (10th ke baad science lene ke fayde), आइए हम जाने की साइंस क्या है, इसके बारे में जानकारी प्राप्त करें। दरअसल, दसवीं के बाद इसके अलावा सब्जेक्ट्स को कुल 3 भागों में बांटा जाता है। जिसमें पहले कला क्षेत्र (Arts) आती है, फिर कॉमर्स (Commerce) और फिर विज्ञान (Science), और इन सभी भागों का विशेष महत्व है। क्योंकि इन सभी के अंदर अलग-अलग विषय होते हैं।

इसलिए स्कूल के छात्रों को अपनी स्ट्रीम चुनने में बहुत सावधानी बरतनी पड़ती है। क्योंकि अगर वे गलत सब्जेक्ट लेते हैं तो बाद में उन्हें कुछ परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि अगर किसी छात्र ने गलत सब्जेक्ट ले लिया है तो वो उसे अच्छे से पढ़ने में और उसमे अच्छे मार्क्स लाने में असमर्थ होगा। जिससे उसकी छवि खराब हो सकती है। इसलिए हमेशा अपनी रुचि के हिसाब से ही सब्जेक्ट सुनना चाहिए। इसमें अगर साइंस क्या है ? इसकी बात की जाए तो यह एक ऐसा विषय है जिसमे तकनीकी, शोध, और अनुसंधान जैसे तत्व देखने को मिलते है।

साइंस लेने के फायदे (Science lene ke fayde)

विज्ञान लेने का पहला लाभ (science lene ke fayde) यह है कि इसे लेने से आपकी अंग्रेजी बहुत तेज हो जाएगी। क्योंकि ज्यादातर विज्ञान की पुस्तकें केवल अंग्रेजी में हैं। साइंस लेने वाले छात्र लगातार टेक्नोलॉजी से जुड़ी बातों पर ही भरोसा करते हैं। क्योंकि वह खुद तकनीकी जानकार छात्र होते हैं। Science लेने वाले छात्र टेक्नलॉजी से जुड़ी नौकरियो के साथ साथ कला क्षेत्र से जुड़ी नौकरियों के बारे में भी सोच सकते है। जबकि कला और कॉमर्स पढ़ने वाला स्टूडेंट किसी भी प्रकार से साइंस से जुड़ा ज्ञान प्राप्त नहीं कर सकता ना ही उससे जुड़ी नौकरियों के लिए आवेदन कर सकता है।

साइंस अलग-अलग स्ट्रीम की तुलना में गिने-चुने युवा ही ले पाते है। इसलिए साइंस पढ़ने वाले बच्चों को एक अलग ही मुकाबले से गुजरना पड़ता है। साइंस पढ़ने वाले बच्चों को समाज में एक अलग ही नजरिए से देखा जाता है। क्योंकि इसमें तकनीकी ज्ञान का भरमार होता है, जिसे पढ़ पाना सबके बस की बात नही होती। दसवीं कक्षा का बच्चा, (10th ke baad science lene ke fayde) जीवन में एक तरह से चुनौतियों से लड़ना सीख जाता है।

साइंस लेने का सबसे बड़ा फायदा क्या है ? (Science lene ka sabse bada fayeda)

Science लेने के सभी लाभों (science lene ke fayde) को गिनाने से पहले हम आपको साइंस लेने के सबसे बड़े लाभ (science lene ke fayde) के बारे में बता देते हैं,इसका सबसे बड़ा लाभ यह है कि यदि आप साइंस के साथ चलते हैं, तो आप सभी अन्य सर्कुलेशन गाइड भी कर सकते हैं। लेकिन अगर आप कला के छात्र हैं और कोई कार्य आता है जिसमें तकनीकी ज्ञान मांगा जाता है तो आप उसमें नहीं जा सकते हैं। तो एक तरह से अगर आप तकनीकी ज्ञान ले लेते हैं तो आप हर तरह के गाइड और जॉब के लिए योग्य हो जाते हैं। अगर हम कुछ व्यापारिक नौकरियों को छोड़ दें तो।

ये भी पढ़ें:

साइंस लेकर क्या-क्या बन सकते हैं?

आइए अब आपको बताते हैं कि अगर आप यदि बीएससी करने के बाद साइंस फील्ड में ज्ञान प्राप्त कर रहे हैं, तो आप भविष्य में क्या क्या बन सकते हैं। इसे समझने के बाद अगर आप इनमें से कुछ बनना चाहते हैं तो हमेशा साइंस को ही अपनाएं। अन्यथा आप वह नहीं बन पाएंगे जो आपको होना चाहिए था। लेकिन ऐसे कई फील्ड हैं जिनमें किसी स्पेशल स्ट्रीम के लिए कोई जरूरी नहीं है। तो आप उनको भी आसानी से करने के लिए तैयार हो सकते है। तो आइए जानते हैं कि आप साइंस लेने के बाद क्या बन सकते है ? तो साइंस लेने के बाद कौन सा प्रोफेशन चुन सकते है ? या साइंस लेकर क्या-क्या बन सकते हैं?

1.डॉक्टर बन सकते हैं

यदि आप सांइस ले रहे हैं, तो आप पहले डॉक्टर बन सकते हैं। इसमें 12वीं के बाद आप डॉक्टर से संबंधित परीक्षा दे और डॉक्टर बनें। लेकिन इसके लिए यह बहुत जरूरी है कि आप 10वीं के बाद साइंस में पीसीबी ( PCB – Physic, Chemistry, Biology) का चुनाव करें। क्योंकि ये विषय एक डॉक्टर बनने के लिए सबसे महत्वपूर्ण हैं।

2.इंजीनियर बन सकते हैं

अगर हम बात करे की आप Science लेकर क्या बन सकते है तो आप इसमें दूसरे नंबर पर इंजीनियर भी बन सकते है। जो बिना विज्ञान लिए किसी भी तरह से संभव नही है। लेकिन इसके अंदर यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आपको विज्ञान में पीसीएम ( PCM – Physics, Chemistry, Biology) लेने में कठिनाई हो सकती है। यदि आपके पास यह नहीं है तो आप निश्चित रूप से किसी भी प्रकार के इंजीनियर नही बन सकते हैं। इसलिए विज्ञान लेने के साथ-साथ यह भी ध्यान रखें कि आपके पास वे विषय हैं या नहीं।

3.वैज्ञानिक बन सकते हैं

इसके बाद अगर बात करें कि विज्ञान लेने के क्या फायदे (science lene ke fayde) हैं तो इसकी मदद से आप वैज्ञानिक भी बन सकते हैं। हालाँकि, इसके लिए आपको बहुत पढ़ाई करनी पड़ेगी। लेकिन यदि आप एक वैज्ञानिक बनना चाहते हैं, तो आप विज्ञान का उपयोग करके सर्वश्रेष्ठ वैज्ञानिक बन सकते हैं। इसके लिए आप इसी तरह साइंस से जुड़े गाइड में शोध कर सकते हैं।

4.सरकारी कर्मचारी बन सकते हैं

यदि आपका सपना बाद में एक सरकारी नौकरी प्राप्त करना है, तो साइंस के साथ आगे की पढ़ाई करना काफी सही होगा। क्योंकि इससे आपके सामने ढेर सारी सरकारी नौकरियों के रास्ते खुल जाते हैं। खासकर टेक्नोलॉजी और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में। क्योंकि तकनीक को अपनाने वाले लोग ही उन क्षेत्रों में नौकरी देख सकते हैं। साइंस लेने का फायदा (science lene ke fayde) यह भी हो सकता है कि आपकी अंग्रेजी और गणित बहुत मजबूत हो जाए। जो हर प्रतियोगी परीक्षा में आज समय में पूछा जाता है। इससे आपके अंदर सभी विषयों को आसानी से समझ के पढ़ने की आदत बन जायेगी।

5.फार्मासिस्‍ट बन सकते हैं

अगर आप आगे चलकर फार्मासिस्ट बनना चाहते हैं तो आप साइंस लेकर भी बन सकते हैं। इसके लिए आपको साइंस भी अपनानी होगी। क्‍योंकि वह भी डॉक्‍टर से जुड़ा एक रास्‍ता है। इसके लिए आपको PCB लेनी होगी और 12वी करने के बाद B Pharma or D Pharma की डिग्री प्राप्त करनी होगी। और उसमे भी साइंस से जुड़ी पढ़ाई आपको कराई जाती है।

6.शिक्षक बन सकते हैं

यहां तक ​​​​कि अगर आप बाद में एक शिक्षक बनना चाहते हैं, तो आप सांइस को लेकर आसानी से बन सकते हैं। इसमें चाहे आप सांइस सब्जेक्ट के टीचर बनना चाहते हों या इसके अलावा आप किसी साइंटिफिक यूनिवर्सिटी में टीचर बन सकते हैं। ये दोनों ही रास्ते आपके लिए बेहतरीन माने जाते हैं। लेकिन अगर आप कोई भी स्ट्रीम लेते हैं तो आप अपने विषय से जुड़े शिक्षक बन सकते हैं। यदि आपको बाद में शिक्षक बनने की आवश्यकता है, तो आमतौर पर 10वीं के बाद साइंस के साथ जाएं। क्योंकि साइंस के क्षेत्र में शिक्षक बनना अपने आप में आनंद की बात है। साथ ही आपको दूसरों की तुलना में अधिक मुनाफा भी मिल सकता है।

10th और 11th me science lene ke fayde

7.पायलट बन सकते हैं

यहां तक ​​कि अगर आप बाद में पायलट बनना चाहते हैं, तो आपको साइंस के साथ जाना चाहिए। क्योंकि पायलट बनने के लिए यह बहुत जरूरी है कि आप टेक्नोलॉजी का अच्छा ज्ञान ले। तो अगर आप सांइस के साथ चलेंगे तो आगे चलकर पायलट बनने का अपना सपना आसानी से पूरा कर पाएंगे। पायलट बनना भी समाज में एक अत्यंत प्रशंसा वाली नौकरियों में आता है।

8.आर्किटेक्ट बन सकते है

अगर आप चाहे तो साइंस लेकर आर्किटेक्ट बन सकते है। जिसमे आप घर के नक्शे बना सकते है। अगर आपकी रुचि साइंस के साथ साथ चित्र बनाने में भी है तो ये लाइन आपके लिए बेहतर साबित हो सकती है। इसके लिए आपको 12वी के बाद आर्किटेक्ट का कोर्स करना पड़ेगा।

9.वकील बन सकते हैं

यदि आप बाद में वकील बनना चाहते हैं, तो विज्ञान के साथ पढ़ाई करना बहुत अच्छी बात है। जिससे आपको सभी प्रकार की जानकारी हो सकती है। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि अगर आप सांइस नहीं लेते हैं तो आप वकील नहीं बन सकते। अगर आप कला क्षेत्र के विद्यार्थी है तो भी आप अच्छे वकील बन सकते है।

लेकिन अगर आप साइंस के साथ चलेंगे तो आपकी जानकारी काफी बेहतर हो सकती है। इसके अलावा सांइस स्ट्रीम के छात्रों को अंग्रेजी में परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है। इसलिए बेहतर होगा कि आप साइंस के साथ आगे बढ़ें और बाद में एक अच्छे वकील बनें।

10.बैंक की नौकरी कर सकते है

अगर आप साइंस के साथ चलेंगे तो आपको बैंक के नौकरी मिल सकती है। क्योंकि बैंक में कुछ ही ऐसी नौकरियां हैं, जिनमें यह मांग की जाती है कि उम्मीदवार को मैथ्स, साइंस आदि का ज्ञान होना चाहिए। बैंक की नौकरी के लिए जो प्रवेश परीक्षा भी होती है उसमे सबसे ज्यादा मैथ्स, साइंस, तकनीक से जुड़े प्रश्न ही पूछे जाते है। लेकिन ऐसा नही है की अगर आपने साइंस नही लिया है तो आप इसकी नौकरी नही कर सकते हैं। बीकॉम करके भी आप बैंक की नौकरी के लिए आवेदन कर सकते है।

11.भौतिक विज्ञानी बनें

इसके अलावा अगर आपका बाद में फिजिसिस्ट (Physicist) बनने का सपना है तो आपको साइंस के साथ जरूर जाना चाहिए। यह एक ऐसा मार्ग है जो सबसे अच्छे साइंस के छात्र ही कर सकते हैं। इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि आप एक भौतिक विज्ञानी बनने के लिए साइंस का सहारा लें। ताकि बाद में आपको किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

12.पशु चिकित्‍सक बन सकते हैं

यदि आप भविष्य में खुद को पशु चिकित्सक बनते देखना चाहते हैं, तो आपको निश्चित रूप से साइंस के साथ जाना चाहिए। क्योंकि अगर दसवीं के बाद आपके पास साइंस नहीं है तो आप पशु चिकित्सा नहीं बन पाएंगे। इसलिए साइंस लेने का लाभ (science lene ke fayde) यह है कि आप आसानी से एक पशु चिकित्सक बनने में सक्षम होंगे। खास बात यह है कि इस दिशा में कुछ ही लोग जाना चाहते हैं। तो इसकी पढ़ाई करने के बाद आपको आसानी से नौकरी भी मिल सकती है।

13.स्त्री रोग विशेषज्ञ बनें

यदि आप एक महिला हैं और भविष्य में खुद को स्त्री रोग विशेषज्ञ के रूप में देखती हैं। तो आपके लिए यह सबसे ज्यादा जरूरी है कि आप दसवीं के बाद साइंस लें। जिससे अब आपको स्त्री रोग स्पेशलिस्ट बनने में कोई परेशानी नहीं होती है। अगर आप साइंस नहीं लेते हैं तो आप बाद में स्त्री रोग विशेषज्ञ नहीं बन सकते। इसलिए यह बहुत जरूरी है कि आप साइंस के साथ ही आगे चलें। इसके फायदे आपको भविष्य में देखने को मिल सकते हैं। इसके लिए आपको 10वी के बाद PCB से पढ़ाई करके डॉक्टर की परीक्षा देनी पड़ती है।

14.कृषि वैज्ञानिक बन सकते हैं

यदि आप भविष्य में एक कृषि वैज्ञानिक बनकर उभरना चाहते हैं, तो यह सबसे महत्वपूर्ण है जो आपको साइंस के साथ ही आगे चलना चाहिए। क्योंकि आप साइंस के बिना इस रास्ते पर चल नहीं सकते। साइंस लेने के फायदे (science lene ke fayde) के माध्यम से आसानी से आप एक कृषि वैज्ञानिक बन सकते हैं। जो कि एक बेहद अच्छी नौकरी मानी जाती है। हमारे देश में बहुत कम लोग इस करियर को आजमाते हैं। इसलिए अगर आप भी इस फील्ड को आजमाते हैं तो आपको आसानी से काम मिल जाएगा। इसलिए आपको इस करियर फील्ड को विज्ञान के साथ ही पूरा करना चाहिए।

15.दवा विक्रेता बन सकते हैं

साइंस की जानकारी लेने के बाद अगर आप बाद में दवाई विक्रेता बनना चाहते हैं तो आप अपनी दवाई की दुकान भी खोल सकते हैं। इसके लिए भी आपको साइंस के ज्ञान की सबसे ज्यादा जरूरत है। इसके लिए आपको साइंस के क्षेत्र में मेडिसन का अच्छा ज्ञान होना चाहिए। इसके लिए आपको शुरू से ही साइंस सब्जेक्ट लेना चाहिए और 12वी के बाद B Pharma और D Pharma जैसी डिग्री लेकर पूरा ज्ञान अर्जित करना चाहिए। और भी बहुत कुछ बन सकते हैं

ये भी पढ़ें:

सांइस की पढ़ाई से आप ऐसे कई सेक्टर्स मे आगे बढ़ सकते हैं। इसके अलावा भी आपको कई चीजें आ सकती हैं। आपको बस इतना करना हैं कि साइंस की पढ़ाई को मेहनत और लगन से करे। जिससे आपको बेहतरीन नंबर मिले। क्योंकि बिना अच्छे नंबर और मेहनत के कभी, कुछ भी नहीं बना जा सकता है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न – Related FAQs

साइंस कौन कौन ले सकता है?

साइंस का चुनाव 10वीं पास करने के बाद कोई भी छात्र आसानी से कर सकता है। बस उस छात्र में मेहनत और लगन से साइंस पढ़ने की इच्छा होनी चाहिए।

साइंस के अदंर अन्य कौन से विषय आते हैं?

साइंस के अंदर PCB (Physics,Chemistry,Biology) और PCM (Physics, Chemistry,Maths) का विकल्‍प दिया होता है। आप इनमें से कोई भी विषय चुन सकते हैं।

क्‍या साइंस विषय बेहद कठिन होता है?

हां! अगर आप साइंस विषय लेते हैं तो आपको काफी मेहनत करनी होगी। ये अन्य स्ट्रीम की तुलना में थोड़ा कठिन होता है।

साइंस विषय लेकर आप क्‍या क्‍या बन सकते हैं?

साइंस विषय लेने के बाद आप डॉक्‍टर और इंजीनियर और भी इसके साथ अनेकों क्षेत्र में जा सकते हैं।

साइंस विषय में लेने में सबसे जरूरी बात क्या है ?

साइंस विषय केवल वही ले जिसकी साइंस में रूचि हो। बिना रूचि के कभी साइंस को नहीं पढ़ा जा सकता है। क्योंकि यह विषय थोड़ा तकनीक, शोध और अनुसंधान पर आधारित है। इसे समझ कर ही पढ़ा जा सकता है, रट कर नही।

निष्कर्ष (Conclusion)

हम आशा करते है कि अब आप समझ गए होंगे कि 10th और 11th me Science lene ke fayde क्या है और साइंस लेकर क्या-क्या बन सकते हैं? इस तरह से आप कह सकते हैं कि यदि आप साइंस के साथ जाते हैं तो आगे चलकर आपको कभी भी पछताना नहीं पड़ेगा। लेकिन केवल कोई खास विषय ले लेने मात्र से आप कामयाब नहीं हो जाते हैं। इसके लिए आपको उसके पीछे उतनी ही मेहतन करनी होती है। यदि आपका इस लेख से जुड़ा कोई सवाल है या कोई अन्य राय है तो आप हमें नीचे कमेंट करें हम आपके सवाल का जवाब अवश्‍य देंगे।