भिन्नों का जोड़ कैसे करें – Bhinn Ka Jod Kaise Karen?

नमस्कार दोस्तों Top Kro में आपका स्वागत है। गणित विषय मे अच्छी पकड़ बनाने के लिए भिन्नों के बारे में जानकारी होना अत्यंत आवश्यक है। इस पोस्ट में आज हम भिन्नों का जोड़ कैसे करते हैं ( Bhinn Ka Jod Kaise Karen) इसके बारे जानकारी प्राप्त करेंगे।

इस पोस्ट में हमनें भिन्न का जोड़ कैसे करे इसके बारे में बहुत सरल भाषा मे लिखने का प्रयास किया है। आपसे अनुरोध है कि आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ें ताकि भिन्न का जोड़ करना आपको अच्छे से समझ आ सके। भिन्न किसे कहते हैं इसके बारे में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

भिन्न का जोड़ कैसे बनता है? – Bhinn Ka Jod

Bhinn ka jod करने के कई तरीके हैं। इस लेख में हम उन तरीकों के बारे में बात करेंगे जिनसे भिन्नों का जोड़ आसानी से किया जा सके। आइये Bhinn Ka Jod करने के उन तरीकों के बारे में जान लेते हैं।

1). भिन्नों का जोड़ अगर उनका हर समान हो

अगर दी गयी भिन्नों के हर बराबर हैं तो हम समान हर रखकर दोनों भिन्नों के अंशों को जोड़ देंगे ओर अंश की जगह लिख देंगे।


उदाहरण के लिए हमें 3/4 तथा 5/4 का जोड़ करना है। दी गई दोनों भिन्नों का हर समान है। तब हम दोनों भिन्नों के अंश को जोड़ देंगे 3 + 5 = 8 ये नई भिन्न का अंश होगा तथा हर की जगह हम पुराना हर लिख देंगे। तब 3/4 + 5/4 = 8/4 होगा।

2). भिन्नों का जोड़ अगर उनका हर समान ना हो

अगर दी गई भिन्नों का हर समान ना हो और हमें उनका जोड़ करना हो तब हम दोनों भिन्नों के हर का Lcm लेंगे तथा उस Lcm को पहली भिन्न के हर से भाग करके प्राप्त उत्तर को पहली भिन्न के अंश से गुणा करके लिखेंगे तथा इसी तरह Lcm को दूसरी भिन्न के हर से भाग करेंगे और प्राप्त उत्तर को दूसरी भिन्न के अंश से गुणा करके लिख देंगे।

इस प्रकार पहली और दूसरी भिन्न से प्राप्त गुणनफल को जोड़ देंगे और हर की जगह Lcm लिख देंगे। इस प्रकार हम दोनों भिन्नों का जोड़ कर सकते हैं।


उदाहरण के लिए अगर हमें 2/7 तथा 3/14 का जोड़ करना है।

1). 2/7 + 3/14 दोनों भिन्नों के हर क्रमशः 7 तथा 14 है। इनका Lcm 14 होगा।

2). अब प्राप्त Lcm को पहली भिन्न के हर से भाग करेंगे 14÷7=2 अब इस 2 से पहली भिन्न के अंश को गुणा करेंगे 2 × 2 = 4।

3). अब इसी प्रकार प्राप्त Lcm को दूसरी भिन्न के हर से भाग करेंगे 14÷14=1 अब इस 1 से दूसरी भिन्न के अंश को गुणा करेंगे 1 × 3 = 3।

4). अब 4 ओर 3 को जोड़ देंगे 4 + 3 = 7 तथा हर की जगह Lcm यानी 14 लिख देंगे।
7/14 = 1/2 उत्तर

चलिए भिन्नों के जोड़ का एक और उदाहरण देख लेते हैं।

2/3 + 5/6 हमें इन दोनों Bhinn ka jod करना है।

जैसा कि हम देख सकते हैं यहाँ दोनों भिन्नों के हर अलग अलग हैं। तो हम सबसे पहले इन भिन्नों के हरों 3,6 का लघुतम समापवर्त्य निकालेंगे।

3,6 का लघुतम समापवर्त्य : 6
6 दोनों भिन्नों का हर बन जाएगा।

अब हम नए हर यानी 6 को पहली भिन्न के हर से भाग करेंगे एवं जो संख्या आएगी उसे पहली भिन्न के अंश से गुना करेंगे।

6 ÷ 3 = 2
2 × 2 = 4

ऐसा ही हम दूसरी भिन्न के साथ भी करेंगे।
6 ÷ 6 = 1
1 × 5 = 5

अब हमें पहली भिन्न का अंश 4 तथा दूसरी भिन्न का अंश 5 प्राप्त हो गया।
हम अब हर की जगह Lcm को रखते हुए दोनों अंशों को जोड़ देंगे।
4 + 5 = 9
9/6 = 3/2 उत्तर

इसी प्रकार आप असमान हर वाली Bhinn Ka Jod ज्ञात कर सकते हैं।

2. वज्रगुणनविधि विधि द्वारा भिन्नों को जोड़ना – Cross Multiplication In Hindi

वज्रगुणन विधि से भी Bhinn ka jod krna काफी सरल है। इस विधि में सबसे पहले दोनों भिन्नों के हरों की आपस मे गुणा कर देते हैं। फिर पहली भिन्न के अंश को दूसरी भिन्न के हर से गुणा कर देते हैं तथा दूसरी भिन्न के अंश को पहली भिन्न के अंश से गुणा कर देते हैं तथा दोनों भिन्नों से प्राप्त गुणनफल को जोड़कर अंश की जगह लिख देते हैं तथा हर की जगह दोनों भिन्नों के हरों की गुणा लिख देते हैं।

उदाहरण के लिए हमें 2/3 तथा 4/5 का जोड़ ज्ञात करना है वज्रगुणन विधि से।

तब सबसे पहले हम दूसरी भिन्न के हर को पहली भिन्न के अंश से गुणा करेंगे 2 × 5 = 10।
अब दूसरी भिन्न के अंश को पहली भिन्न के हर से गुणा करेंगे 4 × 3 = 12।

 अब इन दोनों को जोड़ देंगे 10 + 12 = 22 ये नई भिन्न का अंश होगा तथा हर के लिए दोनों भिन्नों के हर की गुणा करेंगे 3 × 5 = 15 ये नई भिन्न का हर होगा।

22/15 उत्तर।

भिन्नो के जोड़ के सवाल – Bhinn Ka Jod Ke Sawal

अब आपको अभ्यास के लिए Bhinn ka jod questions दिए गए हैं आपको इनको हल करना है तथा उत्तर कमेंट बॉक्स में बताना है।

प्रश्न.1. दी गई भिन्नों 6/7 तथा 4/5 का जोड़ ज्ञात करें?
प्रश्न.2. दी गई भिन्नों 4/7 तथा 2/7 का जोड़ क्या होगा?
प्रश्न.3. दी गई भिन्नों 5/7 तथा 3/5 का जोड़ वज्रगुणन विधि से ज्ञात करें?

पूर्ण सँख्यासह अभाज्य संख्या
भाज्य संख्याअभाज्य संख्या
प्राकृत संख्यापरिमेय ओर अपरिमेय संख्या
सम संख्याविषम संख्या

उम्मीद करता हूं दोस्तों की भिन्न का जोड़ ( Fraction Ka Jod ) से सम्बंधित हमारी यह पोस्ट आपको काफी पसंद आई होगी तथा अब आप जान गए होंगे कि Bhinn Ka Jod कैसे करते हैं, भिन्नों का जोड़ करने के तरीके कौनसे है, वज्रगुणन विधि से Bhinn ka jod कैसे करें?

अगर आप यह पोस्ट आपको अच्छा लगा तो आप अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर कर सकते हैं। अगर आप ऐसी ही पोस्ट पढ़ना चाहते हैं तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं।

अगर आपके मन मे कोई सवाल है या इस पोस्ट में आपको कुछ समझ में नहीं आ रहा है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं हम आपसे जल्द ही संपर्क करेंगे और आपकी मदद करेंगे। अपना कीमती समय देने के लिए आपका धन्यवाद।

मेरा नाम Sandeep Karwasra है और में topkro.com ब्लॉग का ऑनर हूँ। अपने ब्लॉग के माध्यम से आप तक अच्छी जानकारी पहुंचाना मुझे काफी अच्छा लगता है।

Leave a Comment

close